Mothers Day Hindi Poem
INSPIRATIONAL

Mothers Day Hindi Poem | Heart Touching Hindi Poem on Mothers Day

Last updated on March 8th, 2022 at 08:27 am

Mothers Day Hindi Poem : मातृ दिवस के अवसर पर, हमने ‘माँ’ पर एक दिल को छूने वाली कविता बनाई हैं, जो सभी माँ को समर्पित हैं। माँ हमेशा अपने बच्चे और मानव जाति के लिए एक आशीर्वाद हैं। माँ हमारी ज़िंदगी को इतना आसान बनाती हैं, माँ अपने बच्चो से सबसे ज्यादा प्यार भी करती हैं, माँ हमेशा कड़ी मेहनत करती रही हैं और मल्टीटास्किंग काम भी करती हैं। मातृ दिवस के इस विशेष अवसर पर, मेरी माँ के लिए, आपकी मां के लिए और हर किसी के लिए यहां कुछ खास है। असल में, हमने हिंदी में ‘माँ’ पर बहुत खूबसूरत कविताएं बनाई हैं। हमे आशा है कि आप सभी इसे पसंद करेंगे।

Mothers Day Hindi Poem (Heart Touching Poem):


1. FIRST LINE

“पहली धड़कन भी मेरी,

धरकी की तेरी भीतर जमीन को छोड़कर, बता में जाउ कहा।

आंखें खोली जब पहली दफा, तेरा चेहरा ही दिख,

ज़िंदगी का हर लम्हा, जीना तुझसे ही सीखा।

2. SECOND LINE

ख़ामोश सी मेरी जुबान को, सुर भी तूने ही दिया,

स्वेत परी मेरी अभिलाषाओं को, रंगो से तूने भर दिया।

 अपना निराला छोड़ कर, मेरे खातिर तूने भंडार भरे,

मैं भले नाकामयाब रहा, फिर भी मेरे होने का तूने अहंगकार भरा।

3. THIRD LINE

वोह रात को छिपकर, जब तू अंधेरे मे अकेले रोया करती थी,

दर्द होता था मुझे भी, सिसिकिया मैंने भी सुनी थी।

नासमझ था मैं, जब इतनी खुद का भी मुझे भान नहीं था,

तू ही बस वह एक थी, जिसे मेरी भूक प्यास का पता था।

4. FORTH LINE

पहले जब मैं बेतहाश धूल मे खेला करता था,

तेरी चुरिया, तेरी पायल की आवाज़ से डर लगता था,

लगता था, तू आएगी बहुत डातेगी और कान पकड़ कर मुझे ल जाएगी।

5. FIFTH LINE

माँ आज भी, जब किसी दिन मुझे धुंध धुंध सा लगता है,

चुरिया के बीच से,

तेरी उरते गुस्से भरी आवाज़ को सुनने का मन करता है,

मन करता है, तू आ जाए,

बहुत डाटे और कान पकड़ कर मुझे ल जाए।

6. SISTH LINE

जाना चाहता हु, उस बच्चपन में फिर से,

जहा तेरी गोद मे सोया करता था,

जब काम ना हो कोई मेरे मन्न को, तो हर बात पर रोया करता था।”

दोस्तो आज मातृ दिवस है। यह दिन बच्चो के जीवन में सबसे ज्यादा मह्वपूर्ण इंसान माँ को समर्पित है। भले ही यह दिन भी, अन्य दिनों की तरह विदेशी संस्कारसं की ही देन है। पर हम भी इसे मानते हैं और आशा करूंगा सभी लोग भी इस दिन को बाकी दिवस के तरह मनाएंगे।

ALSO READ : MATA SITA KA SHRAAP | GAYA PIND DAAN – THE SOIL OF BIHAR

दोस्तो माँ एक ऐसा शब्द है, जो किसी भी व्यक्ति के जीवन में सबसे ज्यादा अहमियत रखता है। ईश्वर सभी जगह उपस्थित नहीं रह सकता, इसलिए उसने धरती पर माँ का स्वरूप बिक्षित किया है। जो हर परेशानी और हर मुश्किल घड़ी में अपने बच्चो का साथ देती है, उन्हें दुनिया के हर ग़म से बचाती है। बच्चा जब जन्म लेता है, तो सबसे पहले वोह माँ बोलना सीखता है। माँ के रूप में, बच्चे को निस्वार्थ प्रेम और त्याग की प्राप्ती होती है, तो वही माँ बनना किसी भी महिला को पूर्णता प्रदान करती है।

” माँ तेरी दूध का कर्ज, मुझसे कभी अदा नहीं होगा,

अगर कभी रही तू नाराज़, तो खूस वोह ख़ुदा मुझसे क्या होगा।”


” ख़ुदा का दूसरा रूप है माँ, ममता की गहरी झील है माँ,

वह घर किसी जन्नत से कम नहीं, जिस घर में ख़ुदा की तरह पुजी जाती है माँ।”

Mothers Day Hindi Poem

Video On Mothers Day Heart Touching Hindi Poem

Liked Our Post ? Please Share To The World..
Sharing is Caring

Deeproshan Shaw
Author & Founder of DailyLifeInformation.Com, And a graduate bachelor from a beautiful city of Assam who is trying his best to make everyone to be informative and self-dependent.
https://Www.DailyLifeInformation.Com

One Reply to “Mothers Day Hindi Poem | Heart Touching Hindi Poem on Mothers Day

  1. I think this is among the most vital info for me. And i’m glad reading your article.
    But wanna remark on few general things, The site style is wonderful, the articles is really nice : D.
    Good job, cheers

Say Something About This Post